मै भी मजदूर

देखा मैने सरकारों को । देखा मैने बाजारों को । पैदल पैदल कर्म चले क्यू ना आज आंख जले । हा मै मजदूर हूं मै मजबुर हूं । घर से बड़ी दूर हूं । कल फिर उठूंगा कर्म करूंगा । हा मै मजदूर हूं

मै भी मजदूर

Corona

कैसी फैली ये छुआ छूत की बीमारी है ।। बचा नहीं यहां राजा से लेकर भिकारी है ।। देश बन्द विदेश बन्द संकट ये बड़ा भारी है ।। झेल रही इस आपदा को दुनिया सारी है ।। बन्द हो गया सबका घर से निकलना वाहन तो क्या ।। मुश्किल है बड़ा पैदल भी चलना ।। […]

Corona
Create your website with WordPress.com
Get started